WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

NPCI New Guidelines: गूगल पे, फोन पे, पेटीएम UPI ID 31 दिसंबर से बंद,नई गाइडलाइन जारी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आप भी मेरी तरह यूपीआई आईडी गूगल पे फोनपे पेटीएम या अन्य किसी अप की यूपीआई आईडी से ट्रांजैक्शन करते हैं तो नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन आफ इंडिया की नई गाइडलाइंस के अनुसार 31 दिसंबर तक एक बड़ा आदेश है निकल गया है जिसके अनुसार जो गाइडलाइन का पालन नहीं करेगा उसकी यूपीआई आईडी को पूर्णता बंद किया जाएगा |

. भारत में ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए वर्तमान में हम ज्यादातर यूपीआई का इस्तेमाल करते हैं. इसके द्वारा एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति के पास पेमेंट को तुरंत ट्रांसफर करने का एक माध्यम है भारत के अधिकतर नागरिक ऑनलाइन पेमेंट के जरिए यूपीआई का बहुत ज्यादा आजकल इस्तेमाल कर रहा है जिसमें सबसे ज्यादातर उसे होने वाले Google Pay,Phone Pay ,पेटीएम मुख्य रूप से शामिल है अगर आप भी यूपीआई आईडी के माध्यम से ट्रांजैक्शन करते हैं तो आपके लिए नया नियम या गाइडलाइंस जारी हो गई है जो आपके लिए जाना बहुत जरूरी हो गया है अन्यथा आपकी यूपीआई आईडी को बंद हो जाएगी |

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन आफ इंडिया(एनपीसीआई) ने सभी बैंकों और ऐसे थर्ड पार्टी एप्लीकेशन को प्रोवाइड जैसे गूगल पे फोनपे पेटीएम वह दूसरे प्रोवाइड के लिए नई गाइडलाइंस को आधिकारिक रूप से जारी कर दिया गया है | आई एन पी सी आई की नई गाइडलाइन के अनुसार जो इसका पालन नहीं करेगा उनकी यूपीआई आईडी को परमानेंटली इस्तेमाल करने पर रोक लगाई जाएगी |

एनपीसीआई का नए नियमों का मुख्य उद्देश्य यही है कि कोई भी यूजर पेमेंट ट्रांसफर कोई गलत व्यक्ति के लिए नहीं हो जाए और कोई भी व्यक्ति किसी भी यूपीआई आईडी का गलत इस्तेमाल करके किसी यूज़र का विश्वास को कम ना कर दें | दरअसल कई बार ऐसा देखा जाता है कि जब लोग अपने मोबाइल नंबर बदलते हैं और वह इस यूपीआई आईडी को अलग करना भूल जाते हैं कई दिनों तक नंबर बंद रहने की वजह से जब किसी दूसरे नंबर पर अलॉट हो जाता है तो यूपीआई आईडी उसे नंबर से पहले जुड़ी हुई है ऐसे में गलत ट्रांजैक्शन की संभावना बढ़ जाती है |

31 दिसंबर के बाद नहीं कर पाएंगे यूपीआई आईडी से लेनदेन

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन आफ इंडिया ने सभी बैंकों और थर्ड पार्टी एप्लीकेशन को प्रोवाइडर को एक नई गाइडलाइंस या निर्देश जारी करते हुए कहा है कि ऐसे ग्राहकों की पहचान की जाए जिन्होंने पिछले 1 साल से यूपीआई आईडी का इस्तेमाल नहीं किया ऐसे ग्राहक की यूपीआई आईडी पर रोक लगाने के निर्देश जारी किए जाएं अगर आप भी ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करते हैं और पिछले 1 साल से कोई भी लेनदेन क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से नहीं किया है तो नए साल पर आपकी यूपीआई आईडी बंद हो जाएगी |

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

NPCI Guidelines महत्वपूर्ण निर्देश

एनपीसीआई द्वारा सभी बैंकों और थर्ड पार्टी सेवा प्रदाता एप्स को ऐसे यूपीआई आईडी की पहचान करने को कहा है जो पिछले 1 साल से किसी तरह का कोई क्रेडिट और डेबिट लेने नहीं कर रहे हैं | उन्हें 31 दिसंबर का समय दिया गया है एनपीसीआई के इस आदेश का एकमात्र उद्देश्य है कि किसी भी तरह से पैसा गलत व्यक्ति के ट्रांसफर नहीं हो जाए | बैंक यूपीआई आईडी को निष्क्रिय करने से पहले यूजर्स को ईमेल या फिर मैसेज के जरिए नोटिफिकेशन भी भेजेगा ताकि उसकी सूचना दी जा सके।

परिणाम

सेवाऐ जारी रखने के लिए बस आपको इतना सा करना है कि अपनी यूपीआई आईडी से एक लेनदेन कर लेना है | यानी एक पेमेंट कर लेना है इसके बाद में आपकी यूपीआई आईडी चालू रह जाएगी | एक और जरूरी बात इस खबर के बाहर आते ही साइबर ठग सक्रिय हो गए हैं आईडी चालू रखने के नाम पर ठगी का धंधा स्टार्ट हो गया है ऐसे ठगों से बचें यूपीआई आईडी बंद होने से आपके अकाउंट को कुछ नहीं होने वाला अगर कोई परेशानी आती है तो आप बैंक में संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Comment

close